चीन में एक बार फिर कोरोना का कहर, फिर लगा लाकडाउन

Corona Havoc

बीजिंग। लगभग 30 मिलियन लोग मंगलवार को पूरे चीन में लाकडाउन के तहत थे। क्योंकि बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों के कारण बड़े पैमाने पर परीक्षण किए गए। और स्वास्थ्य अधिकारियों को शहर की सड़कों पर कोरावायरस महामारी की शुरुआत के बाद से नहीं देखा गया था।

चीन के तरफ से मंगलवार को लगभग 5,280 नए कोरोना वायरस (कोविड -19) मामलों की सूचना दी। जो पिछले दिन की तुलना में दोगुने मामलों से अधिक है। क्योंकि कारोना वायरस की अत्यधिक-संक्रमणीय वेरियंट ओमीक्रोन (Omicron) एक ऐसे देश में फैला है। जो एक ‘Zero-Covid‘ रणनीति के साथ मजबूती से टिका हुआ है।

एक ऐसी समझदारी, जो कठिन और स्थानीय लॉकडाउन पर आधारित है। और चीन को दो साल के लिए बाहरी दुनिया से लगभग अलग-थलग कर दिया है। ऐसा लगता है कि ओमिक्रॉन ने भी समुदायों में अपना रास्ता खोज लिया है।

देश भर में कम से कम 13 शहरों को 14 मार्च को पूरी तरह से बंद (लाकडउन) कर दिया गया था। जबकि कई अन्य शहरों में आंशिक रूप से लाकडाउन लगा दिया गया था।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार, चाइना के जिलिन का पूर्व और उत्तर का प्रांत मंगलवार को 3000 से अधिक नए मामलों के साथ सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ।

चीन की प्रांतीय राजधानी चांगचुन सहित कई शहरों मे निवास करने वाले लगभग नौ मिलियन लोगों कों अपने घर पर टिके रहने के आदेश दिए गए हैं।

शेनझेन – दक्षिणी टेक हब लगभग 17.5 मिलियन लोगों को कंपनियों, कारखानों के बंद होने और सुपरमार्केट की दुकानों को 3 दिनों तक बंद करने के निर्देश दिए गये हैं। जबकि चीन का सबसे बड़ा शहर शंघाई वहा लगाए गये प्रतिबंधों के तहत है। जो एक शहर व्यापी लाकडाउन से कम है।

COVID-19

लेकिन लाकडाउन शुरूआती दृश्य, घबराहट की खरीदारी और पुलिस घेरा, महामारी के शुरुआती चरण में वापस आ गए। जो पहली बार 2019 के अंत में चीन में उभरा, लेकिन दुनिया के बाकी हिस्सों में बहुत कम हो गया था।

14 मार्च को लगातार छठा दिन था। जब दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देष चीन में 1,000 से अधिक नए मामले दर्ज किए गए। विशेषज्ञों ने विकास के लिए एक नये नियम लगाने का अनुमान लगाय। क्योंकि वायरस बिल आउट हो गया।

ऑक्सफोर्ड इकोनॉमिक्स के टॉमी वू ने एक छोटे नोट में कहा। हाल ही में कोविड के इस प्रकोप और नए सिरे से लगाए गये प्रतिबंध। विशेष रूप से शेनझेन में लॉकडाउन, विकास के बजट पर असर डालेगा और निकट समय में आपूर्ति में व्यवधान पैदा करने करने की संभवानाएं रहेंगी।

उन्होंने कहा कि चीन के लिए लगभग 5.5 प्रतिशत के अपने आधिकारिक जीडीपी विकास के कार्य को पूरा करना काफी चुनौनी पूर्ण होगा।

हांगकांग के शेयरों में मंगलवार को तीन 3 प्रतिष्त से अधिक की गिरावट आई। जो पिछले दिन के तकनीकी-ईंधन वाले रास्तों का विस्तार करने का कार्य कर रहा था।

फ्लाइट ट्रैकिंग रिपोर्ट से पता चला है कि बीजिंग और शंघाई के हवाई अड्डों पर दर्जनों घरेलू उड़ानें मंगलवार सुबह कैंसल कर दी गयी थी।

जीरो कोविड क्या है?

एक संवादाता के अनुसार, जिलिन शहर चांगचुन में वोक्सवैगन समूह के कंपनियों में एक कोविड-19 प्रकोप के तहत तीन साइटों को सोमवार को कम से कम तीन दिनों के लिए आंषिक रूप से बंद करने के लिए प्रेरित किया गया।

शंघाई सहित कई अन्य शहरों ने कुछ पड़ोस और इमारतों को सील कर दिया गया है। क्योंकि अधिकारियों ने दैनिक जीवन में व्यवधान को कम करने की मांग की है।

एक प्रमुख चीनी चिकित्सा विशेषज्ञ झांग वेनहोंग ने ओमाइक्रोन संस्करण के सामने “जीरो-कोविड” रणनीति को नरम करने की संभावना जताई है। लेकिन अल्पावधि में उन्होंने चेतावनी दी कि सामूहिक परीक्षण में कोई ढील ना दी जाए। जिससे लॉकडाउन असंभव किया जा सके।

स्वास्थ्य अधिकारियों का यह भी कहना है कि रास्ते में कड़े प्रतिबंध हो सकते हैं।

राज्य मीडिया ने बताया कि जिलिन के गवर्नर ने सोमवार रात एक आपातकालीन बैठक के दौरान एक सप्ताह में सामुदायिक जीरो-कोविड करने के लिए पूरी तरह से जाने की कसम खाई।

मुख्य रूप से जिलिन के निवासियों को जो उत्तर कोरिया के साथ सीमा पर है। प्रांत के बाहर और आसपास यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।

Read Also: गर्मियों मे चेहरा साफ करने के लिए घरेलू उपाय2022 में अपना व्यवसाय कैसे बढ़ाएंः साप्ताहिक पत्रिकाअस्थमा के प्रकार, रोकथाम और उपचारHow to Loss Belly Fat: पेट की चर्बी कैसे कम करें